Sunday 3 May 2009

सफलता के कुछ सूत्र

१। सदा मुस्कुराते रहिये, अपने दुखडे दूसरों के सामने मत रोइए
२। दूसरों की दिल खोल के तारीफ़ कीजिए पर अति नहीं होनी चाहिए
३। सुनिए ज्यादा बोलिए कम
४। बोलें तो पूरी शालीनता, गंभीरता के साथ बोलें। आप ख़ुद की बात को गंभीरता से नहीं लेंगें तो दूसरा भी नहीं लेगा
५। दूसरों की इज्जत करो पूजा नहीं
६। क्रोध को ख़ुद पर हावी मत होने दो। दूसरों के गुस्से को सहन करना सीखो।
७। दोस्तों को उनके नाम से पुकारें और उनकी रूचि की बातें करें अपनी रूचि की नहीं
८। कुएं के मेढक न बनें , विभिन्न वर्गों के लोगों से दोस्ती करें।
९। किसी से पैसे की मदद न मांगें , लेकिन कोई मांगे तो दे दें यह सोच कर की पैसा वापस नहीं आयेगा।

इन्हें भी देखें
सफ़लता के पांच अचूक मंत्र

No comments:

Post a Comment